Development in India: भारत की एक और बड़ी सफलता, पीएम मोदी खुद करेंगे सितंबर में उद्घाटन

Longest Road Rohtang Tunnel in The World

Development in India : भारत अब प्रगति के पथ पर अग्रसर है। इसे कई कार्यों के लिए विदेशों में बोहत सराहा गया है, जैसे कि गुजरात में ‘स्टैच्यू ऑफ यूनिटी’ (Statue of Unity) जिसने दुनिया की सभी मूर्तियों का रिकॉर्ड तोड़ दिया और भारत ने इतिहास के पन्नों में अपना नाम दर्ज किया। भारत एक और इतिहास बनाने जा रहा है। यह एक मूर्ति नहीं बल्कि एक लंबी सड़क सुरंग (Longest Road Tunnel in The World) है।

Which is the longest road tunnel in the world?

हमारे देश में दुनिया की सबसे लंबी सड़क सुरंग (Longest Road Tunnel in The World) पूरी हो चुकी है जिसे बनाने में लगभग दस साल लगे हैं। अगर इतने साल लगे है तो यह एक छोटी सड़क सुरंग तो होगी नहीं। यह दुनिया की सबसे लंबी सड़क सुरंग (Longest Road Tunnel in The World) है जो 10 हजार फीट पर स्थित है। सुरंग का नाम पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर रखा गया है। सुरंग का नाम रोहतांग सुरंग (Rohtang Tunnel) है। अब लद्दाख इस साल के दौरान पूरी तरह से जुड़ जाएगा। अब मनाली और लेह के बीच की दूरी लगभग 46 किमी कम हो जाएगी।

लंबी सड़क सुरंग (Longest Road Tunnel in The World) यानि की रोहतांग सुरंग (Rohtang Tunnel) का उद्घाटन इस साल में ही सितंबर के महीने में प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किया जाएगा। सरकार के आदिवासी विकास मंत्री डॉ. रामलाल मा मारकंडा ने बीआरओ अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक के बाद यह जानकारी दी है। आदिवासी जिले लाहौल-स्पीति से मनाली तक इस महत्वाकांक्षी सुरंग का निर्माण लगभग पूरा हो गया है।

यह लंबी सड़क सुरंग (Longest Road Tunnel in The World) 10,171 फीट की ऊंचाई पर बना अटल रोहतांग टनल रोहतांग के पास से जुड़ा हुआ है। यह दुनिया की सबसे लंबी और सबसे लंबी सड़क सुरंग (Longest Road Tunnel in The World) है। यह लगभग 8.8 किमी लंबी है और 10 मीटर चौड़ी है। अब मनाली से लेह की दूरी 46 किमी कम हो गई है। अब आप इस दूरी को सिर्फ 10 मिनट में पार कर सकते हैं। कोई भी वाहन 80 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से दौड़ सकेगा।

यह कुल्लू जिले में मनाली को लाहुल-स्पीति जिले को भी जोड़ेगा। इसके बनने से लद्दाख में तैनात भारतीय सैनिकों को बहुत फायदा होगा। इसके कारण सर्दियों में भी हथियार और लॉजिस्टिक आसानी से मुहैया कराए जा सकेंगे। इस मार्ग के जरिये सैनिकों को सामान भी पोहचाया जायेगा।28 जून, 2010 को रोहतांग सुरंग (Rohtang Tunnel) बनाने की शरुआत की गई थी।

इस लंबी सड़क सुरंग (Longest Road Tunnel in The World) को बॉर्डर रोड ऑर्गनाइजेशन (BRO) द्वारा बनाया गया है। सुरंग को घोड़े की नाल के आकार का बनाया गया है। इसका आकार अन्य सभी सुरंगों से अलग है। बॉर्डर रोड ऑर्गनाइजेशन के इंजीनियरों और कर्मचारियों ने इसे बनाने में काफी मेहनत की है। क्योंकि सर्दियों में यहां काम करना बहुत मुश्किल था।

ठंडियों में यहां का तापमान शून्य 30 डिग्री से नीचे चला जाता था। लंबी सड़क सुरंग (Longest Road Tunnel in The World) के निर्माण के दौरान 8 लाख क्यूबिक मीटर पत्थर और मिट्टी की खुदाई की गई थी। और गर्मियों में, हर दिन यहां पांच मीटर खुदाई की जाती थी। लेकिन सर्दियों में यह घटकर आधा मीटर रह गई थी। इस सुरंग का निर्माण इस तरह से किया गया है की 3000 कारें या 1500 ट्रक आ सकते हैं। इस सुरंग के अंदर आधुनिक ऑस्ट्रेलियाई टनलिंग विधियों का उपयोग किया गया है। इसकी लागत लगभग 4,000 करोड़ रुपये है।

सीमा सड़क संगठन ने भी सुरंग के निर्माण में मदद की है ताकि बर्फ और हिमस्खलन का उस पर असर न हो। इसे इस तरह से बनाया गया है कि यह किसी भी मौसम से प्रभावित नहीं है। सुरंग के अंदर, गति और दुर्घटनाओं को नियंत्रित करने के लिए एक निश्चित दूरी पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए है। आग पर काबू पाने के लिए सुरंग के अंदर हर 200 मीटर की दुरी पर अग्नि हाइड्रेंट प्रदान किए गए हैं।

नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके News Of The Days के साथ जुड़ें।

आप हमें Facebook, Twitter और Instagram पर भी लाइक और फॉलो कर सकते हैं।

हम News Of The Days के वेबसाइट पर आप के लिए रोजिंदा कुस ना कुस लाते रहते है।

Previous articleMirzapur 2: मिर्जापुर सीजन 2 की तारीख की हुई घोषणा, जानिए कब होगी रिलीज।
Next articleRealme X7 Pro हुवा लॉन्च, जानिए Price, Review, and Unboxing

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here